न्यूज़

फॉलोअप: वन अफसरों ने स्टॉप डैम निर्माण के लिए स्थल चयन भी किया गलत

गीदम नाले पर कैंपा मद से वन विभाग ने बनाया था 15 लाख का स्टॉप डैम…
डेम निर्माण के नाम पर संबंधित अधिकारियों द्वारा जमकर किया गया बंदरबांट…

सुकमा. वन परिक्षेत्र सुकमा के गीदम नाले पर बनाये गये स्टॉप डैम निर्माण के नाम पर संबंधित अधिकारियों द्वारा जमकर बंदरबांट किया गया है. वन अफसरों ने निर्माण के दौरान भारी अनियमितता बरती गई है. घटिया निर्माण की वजह से बारिश में बढ़े जलस्तर से लाखों की लागत से बना स्टॉप डैम क्षतिग्रस्त हो गया. मामले के प्रकाश में आने के बाद मौका मुयाअन कर लौटे डीएफओ ने डैम निर्माण के लिए चयनित स्थल पर ही सवाल खड़े कर दिये हैं. उन्होने बताया कि स्टॉप डैम के लिए स्थल चयन में अनियमितता बरती गई है. तकनीकि जानकारी लिये बगैर ही रेंजर ने गलत स्थल पर लाखों का डैम बना दिया है.

जिले के किसानों को उन्नत फसल सरकार तरह—तरह की योजनायें संचालित करती हैं. किसानों को बारिश का इंतजार न करना पड़े इसके लिए ग्रामीण इलाकोंं में स्टॉप डैम, चेक डैम और एनिकेट जैसे विभिन्न निर्माण कराये जा रहे हैं. गर्मी और बारिश से पहले जल संरक्षण और संवर्धन के नाम पर करोंड़ों जारी किए जाते हैं. लेकिन अफसरों की भर्राशायी के सामने सभी योजनायें धरातल पर पहुंचने से पहले ही धरासायी हो जाते हैं.

ताजा मामले में वन अफसरों का बंदरबांट साफ नजर आ रहा है, जहां सरकार ने कैंपा मद के तहत लाखों रूपये स्टॉप डैम के निर्माण के लिए दिये थे. वन अधिकारियों ने महज सरकारी राशि को खर्च करने बिना तकनीकि जानकार के 15 लाख का स्टॉप डैम गलत जगह बना दिया. इससे न सिर्फ सरकारी राशि की बर्बादी हुई बल्कि खेतों के लिए सिंचाई सुविधा बढ़ाने की सरकारी मंशा पर भी पानी फिर गया. लिहाजा, डेम निर्माण के नाम पर संबंधित अधिकारियों द्वारा जमकर बंदरबांट किया गया.  

जल संसाधन विभाग करेगा जांच…
क्षतिग्रस्त स्टॉप डैम की जांच का जिम्मा जिले के जल संसाधन विभाग को सौंपा गया है. डीएमओ रोहिदास तारम ने बताया कि हाल ही बने स्टॉप डैम बारिश की वजह से क्षतिग्रस्त हो गया था. इसके जांच के लिए जल संसाधन विभाग को निर्देशित किया गया है. जांच में संबंधित रेंजर के खिलाफ अनियमितता पाये जाने पर कार्रवाई की जायेगी. श्री तारम ने बताया कि स्टॉप डैम निर्माण के लिए स्थल चयन भी गलत किया गया है. 

Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close